All deleted tweets from politicians

RT @NupurSharmaBJP: एक बात समझ ना आयी, जो हाथरस में लेटायी, बरान की बिटिया ग़लत बतायी, कमल नाथ पर नक़ली नाक चढ़ायी, पंजाब की बिटिया को भूल जायी, उन मनचलों से दोस्ती बनायी, जिनकी दिल्ली में हुई पिटाई? #BiharElections2020

RT @NupurSharmaBJP: एक बात समझ ना आयी, जो हाथरस में लेटायी, बरान की बिटिया ग़लत बतायी, कमल नाथ पर नक़ली नाक चढ़ायी, पंजाब की बिटिया को भूल जायी, उन मनचलों से दोस्ती बनायी, जिनकी दिल्ली में हुई पिटाई? #BiharElections2020

RT @NupurSharmaBJP: एक बात समझ ना आयी, जो हाथरस में लेटायी, बरान की बिटिया ग़लत बतायी, कमल नाथ पर नक़ली नाक चढ़ायी, पंजाब की बिटिया को भूल जायी, उन मनचलों से दोस्ती बनायी, जिनकी दिल्ली में हुई पिटाई? #BiharElections2020

RT @NupurSharmaBJP: एक बात समझ ना आयी, जो हाथरस में लेटायी, बरान की बिटिया ग़लत बतायी, कमल नाथ पर नक़ली नाक चढ़ायी, पंजाब की बिटिया को भूल जायी, उन मनचलों से दोस्ती बनायी, जिनकी दिल्ली में हुई पिटाई? #BiharElections2020

RT @NupurSharmaBJP: एक बात समझ ना आयी, जो हाथरस में लेटायी, बरान की बिटिया ग़लत बतायी, कमल नाथ पर नक़ली नाक चढ़ायी, पंजाब की बिटिया को भूल जायी, उन मनचलों से दोस्ती बनायी, जिनकी दिल्ली में हुई पिटाई? #BiharElections2020

RT @JournoPrashant: क्राइम थ्रिलर सीरीज का फोटोशूट चल रहा है। बलिया, हाथरस, बाराबंकी, गोरखपुर, सुलतानपुर, जौनपुर, कानपुर कांडों की अपार सफलता के बाद फुर्सत के पल ।

RT @aajtak: बाराबंकी में उत्तर प्रदेश पुलिस ने कुछ वैसा ही रवैया अपनाया, जैसा कि हाथरस में करके स्थानीय प्रशासन निशाने पर आ गया था #BarabankiHorror #Barabanki #UttarPradesh #Video aajtak.in/crime/news/vid…

RT @JournoAshutosh: RT @JournoAshutosh: हाथरस गैंगरेप : आरोपियों से मिलने जेल पहुंचे BJP सांसद, जेलर ने बैरंग लौटाया @aajtak aajtak.in/india/uttar-pr…

RT @JournoAshutosh: RT @JournoAshutosh: BREAKING हाथरस कांड : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान; सभी सम्बंधित अधिकारियों को नोटिस. @aajtak

RT @JournoAshutosh: हाथरस मामले में बड़ा खुलासा - प्रवर्तन निदेशालय यानि ED के अधिकारिक सूत्रों ने उत्तर प्रदेश के सूत्रों द्वारा PFI और भीम आर्मी के बीच किसी तरह का संबंध पाए जाने, मारीशस के जरिए PFI के खाते में ₹100 करोड़ आने के तमाम दावों को ग़लत बताया है?